द्वितीय विश्वयुद्ध के समय जापानी पनडुब्बी के हमले से तबाह हुए अमेरिकी युद्धपोत का मलबा अब जाकर मिला है. युद्धपोत यूएसएस इंडियानापोलिस का मलबा 72 साल बाद मिला है. खोजकर्ताओं ने घोषणा करते हुए कहा कि फिलीपीन सागर में सतह से 5.5 किलोमीटर नीचे इस जहाज का मलबा मिला. पॉल एलेन ने इस युद्धपोत का पता लगाने वाले खोज दल का नेतृत्व किया.

इस जहाज को द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान हिरोशिमा में इस्तेमाल होने वाले परमाणु बम के हिस्से पहुंचाने के लिए गोपनीय अभियान पूरा होने के तुरंत बाद निशाना बनाया गया. अमेरिकी नौसेना के इतिहास प्रभाग के मुताबिक, हमले के केवल 12 मिनट बाद ही यह जहाज डूब गया जिससे वह संकट संबंधी संकेत नहीं भेज पाया और न ही जीवन रक्षक उपकरण का उपयोग कर पाया.




अमेरिकी नौसेना ने बताया कि जहाज पर तैनात 1,196 नाविकों और सैनिकों में से हमले के तत्‍काल बाद 800 ही बच पाए लेकिन शार्क से भरे समुद्र में कई दिनों तक जिंदगी के लिए जूझने के बाद केवल 316 लोग ही बचे. इनमें से 22 अभी जीवित है.
Next
This is the most recent post.
Previous
Older Post

Post A Comment: